यहां शादी समारोह में की गई इस परंपरा की शुरूआत

0
100

गोपेश्वर: चमोली जनपद के मैठाणा और विजयनगर में शादी समारोह में ग्रामीणों ने पौधरोपण की परंपरा की शुरूआत की। इसके तहत अब गांव में होने वाले प्रत्येक वैवाहिक कार्यक्रम में वर-वधू पौधरोपित करेंगे। लोग इस पहल को पर्यावरण संरक्षण के लिए बेहतर प्रयास मान रहे हैं। दशोली विकासखंड के मैठाणा विजयनगर गांव में भीम सिंह रावत के पुत्र नरेंद्र रावत तथा विकासनगर घाट के प्रताप सिंह कुंवर की पुत्री राधा का विवाह सोमवार को रीति रिवाजों के अनुसार हुआ। यह विवाह गांव में एक नई परंपरा का साक्षी भी बना। यह भी पढ़ें: बेटे ने गिफ्ट में मांगी सिगरेट तो उसी दिन से छोड़ा धूमपान…. असल में गांव में वैवाहिक कार्यक्रम के दौरान ग्रामीणों की पहल पर सबसे पहले वर-वधू से पौधरोपण कराया गया और उसके बाद बारातियों ने भी गांव के खेतों की मुंडेरों पर फलदार पौधों का रोपण कर नई परंपरा की शुरुआत की। यह भी पढ़ें: एक ऐसा स्कूल जो बच्चों से नहीं लेता फीस, स्वयं वहन करता पढ़ाई खर्च गांव की प्रधान दीपा देवी का कहना है कि ग्रामीणों द्वारा अब गांव में होने वाले प्रत्येक वैवाहिक कार्यक्रम में पौधरोपण किया जाएगा। उन्होंने कहा कि गांव के लोग ही जंगलों के प्रहरी की भूमिका आज तक निभाते आ रहे हैं। ग्राम प्रधान ने कहा कि यह मुहिम आगे भी जारी रहेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here