नोएडा: उत्तर प्रदेश एसटीएफ ने सोशल ट्रेडिंग के नाम पर लगभग 3700 करोड़ रुपये के फर्जीवाड़े का खुलासा किया है। इस मामले में एसटीएफ ने कंपनी के मालिक सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया है और कंपनी का खाता भी सीज कर दिया है जिसमें लगभग 500 करोड़ रुपये की राशि बताई जाती है। एसटीएफ ने ये गिरफ्तारियां नोएडा के सेक्टर-63 के एफ ब्लाक में चल रही कंपनी से की। एसटीएफ के मुताबिक इन लोगों ने लगभग सात लाख लोगों से पोंजी स्कीम के जरिये डिजिटल मार्केटिंग के नाम पर इतनी बड़ी ठगी को अंजाम दिया है। उत्तर प्रदेश एसटीएफ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अमित पाठक ने बताया कि एसटीएफ को सूचना मिली थी कि सेक्टर-63 के एफ ब्लाक में अब्लेज इन्फो सॉल्यूशंस प्राइवेट लिमिटेड कंपनी द्वारा पोंजी स्कीम के तहत लोगों से फर्जीवाड़ा किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि कंपनी लोगों को सोशल ट्रेड बिज पोर्टल से जोड़ने के लिए 50 से 60 हजार रूपए कंपनी एकाउंट में जमा करने को कहती थी। उसके बाद हर सदस्य को पोर्टल पर चलने वाले विज्ञापन को लाइक करने के लिए हर क्लिक पर घर बैठे पांच रूपए मिलते थे। हर सदस्य को अपने नीचे दो और लोगों को जोड़ना होता था जिसके बाद सदस्य को अतिरिक्त पैसे मिलते थे। उन्होंने बताया कि कंपनी अपने विज्ञापन खुद डिजाइन कर पोर्टल पर डालती थी और सदस्यों से लिये गये पैसे को उन्हीं को वापस करती थी।

एसटीएफ प्रवक्ता ने बताया कि अब्लेज इन्फो साल्यूशन्स प्रा. लिमिटेड नामक कंपनी की धोखाधडी का एसटीएफ ने खुलासा किया है। यह कंपनी पहले ‘सोशलट्रेड डाट बिज’ आनलाइन पोर्टल से परिचालन करती थी लेकिन बाद में ‘फ्रेन्जप डाट काम’ वेबसाइट से परिचालन करने लगी। प्रवक्ता ने बताया कि कंपनी पिछले कई वषरे से बेवसाइट के माध्यम से निवेशकों को आसान तरीके से घर बैठे पैसा कमाने का लालच देकर भारी फर्जीवाडा करती आ रही है। गोपनीय जानकारी करने पर ज्ञात हुआ कि उपरोक्त कंपनियों द्वारा कई बैंकों में बहुत ही कम समय में भारी मात्रा में धनराशि एकत्र की गयी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here