जमशेदपुर/बैंक से भी अब लोगों को रेलवे का जनरल श्रेणी के टिकट मिलेंगे। जी हां यात्रियों की सुविधा में रेलवे जल्द ही बैंक से टिकट उपलब्ध कराएगा। रेलवे बोर्ड में अगस्त 2016 से नई योजना पर काम शुरू था।

रेलवे व भारतीय स्टेट बैंक में वार्ता भी शुरू है। अप्रैल तक रेलवे का स्टेट बैंक से जनरल टिकट देने पर करार संभव है। इसके बाद क्रिस मदद से ट्रायल शुरू होगा क्योंकि बैंक व रेलवे की व्यवस्था क्रिस ही संभालती है।

एटीएम की तर्ज पर एटीवीएम

रेलवे बैंक से लोगों को टिकट देने के लिए दो तरह की योजना पर विचार कर रही है ताकि कम खर्च में जल्द नई सुविधा शुरू कर सके।

रेलवे बैंक परिसर में ऑटोमेटिक टिकट वेंडिंग मशीन लगा सकती है।

बैंकों के एटीएम में सुधार कर रेलवे टिकट का ऑपशन अपडेट होंगे।

एक पंथ दो काम

बैंक में रेल टिकट मिलने पर लोगों में एक पंथ दो काज कहावत चरितार्थ हो जाएगी। नोट निकालने के साथ लोगों को रेलवे टिकट भी मिलेंगे। यात्री सुविधा में जमशेदपुर के मानगो डाकघर में करीब पांच वर्षों से लोगों को आरक्षित टिकट मिल रहे है।

एक मशीन से टिकट की तीन सुविधा

टाटानगर रेलवे स्टेशन पर दो ऐसे ऑटोमेटिकट टिकट वेंडिंग मशीन लगे हैं। इससे यात्री नोट, सिक्के व स्मार्ट कार्ड से भी जनरल टिकट ले सकते हैं। एक ही मशीन में तीन तरह की सुविधा वाले सीओवीटीएम जोन के चंद स्टेशनों पर ही हैं।

रेलवे की अतिरिक्त व्यवस्था

टाटानगर स्टेशन जनरल टिकट केंद्र में दो सीओएटीवीएम

मानगो के बस स्टैंड में खुल गया जन साधारण टिकट केंद्र

सोनारी के यात्री सुविधा केंद्र से आरक्षित व जनरल टिकट

बैंक में टिकट मिलने के लाभ

स्टेशनों के जनरल टिकट केंद्रों से कम हो जाएगी भीड़

यात्रियों को कतार लगने की झंझट से मिलेगा छूटकारा

ज्यादा किराया लेने का भय एवं ट्रेन छूटने का भय नहीं

फैक्ट फाइल

15 हजार से भी ज्यादा जनरल टिकट रोज टाटानगर में बिकते

04 हजार तक प्लेटफॉर्म टिकट की रोज स्टेशन केंद्र से बिक्री

05 सौ टिकट मानगो डाकघर, बस स्टैंड व सोनारी से बिकता

150 लोग ऑटोमेटिकट टिकट वेंडिंग मशीन से लेतें हैं टिकट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here