चंडीगढ़ (): पंजाब विधानसभा में आज शून्यकाल के दौरान स्थानीय निकाय मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू और पूर्व मंत्री विक्रमजीत सिंह मजीठिया में जमकर तीखी तकरार हुई। सदन में जब नशे के मुद्दे पर बहस हो रही थी तो सत्ता पक्ष की ओर से कहा गया कि सरकार ने इस पर फौरी तौर पर अमल करना शुरू कर दिया है और एसआईटी का गठन कर दिया है। इस पर पूर्व मंत्री मजीठिया ने कहा कि सरकार ने चार ह तों में नशा खत्म करने का वायदा किया था लेकिन उस पर अभी पूरी तरह से अमल नहीं हो रहा है। इस पर नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि दस वर्षों का काम दस दिनों में नहीं किया जा सकता। हमने राज्य में चिट्टे का व्यापार नहीं किया है। इसी वजह से हम जनता के समर्थन से सरकार बना पाये हैं। मजीठिया की तरफ इशारा करते हुए कहा कि आप लोग इसमें शामिल थे यही वजह है कि सदन में अब आपके विधायकों की सं या बहुत कम रह गई है। नवजोत सिंह सिद्धू ने गुस्से में आकर अकालियों व मजीठिया  को बनारस के ठग तक कह दिया।
उल्लेखनीय है कि मजीठिया और नवजोत सिद्धू में काफी सालों से ३६ का आंकड़ा चल रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here