नई दिल्ली / चंडीगढ़ 7 पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने शुक्रवार को कहा कि प्रदेश में नई सरकार द्वारा मादक नशे के खिलाफ चलाए गए अभियान में लगभग 500 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। मुख्यमंत्री ने यहां संवाददाताओं से कहा, सरकार द्वारा शुरू किए गए नशे के खिलाफ अभियान के नतीजे मिल रहे हैं। पंजाब पुलिस के फिर से सक्रिय होने और उसके द्वारा नशे का धंधा करने वालों के खिलाफ 181 हेल्पलाइन के प्रचार के दो दिनों के भीतर ही 240 खुफिया सूचनाएं मिलीं और नशे के खिलाफ मामले में गिरफ्तारियों का आंकड़ा लगभग 500 तक पहुंच गया। मुख्यमंत्री कार्यालय के एक प्रवक्ता ने कहा कि 16 मार्च से 29 मार्च के बीच नशे के खिलाफ के 497 व्यापारियों व विक्रेताओं के खिलाफ मामला दर्ज किया गया, जिनमें से 449 मामले नारकोटिक ड्रग्स एंड साइकोट्रॉपिक सब्सटेंसेज एक्ट (एनडीपीएस) के तहत दर्ज किए गए। प्रवक्ता ने कहा कि गिरफ्तार लोगों के पास से 4.034 किलोग्राम हेरोइन तथा 0.605 किलोग्राम स्मैक बरामद किए गए । इसके अलावा, उनके पास से 2.22 किलोग्राम चरस, 24.46 किलोग्राम अफीम, 715.31 किलोग्राम अफीम भूसी तथा 1.879 किलोग्राम भांग बरामद हुई। पुलिस ने 12.519 किलोग्राम नशीला पाउडर, 1,576 इंजेक्शन, 1,11,893 पिल्स/कैप्सूल, 72.78 किलोग्राम गांजा तथा 133 सीरप बोतलें बरामद की हैं।
कांग्रेस की कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरकार ने नशे के खिलाफ पर निगरानी रखने के लिए अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक हरप्रीत सिद्धू के मातहत एक विशेष कार्य बल (एसटीएफ) का गठन किया है। अमरिंदर सिंह ने कहा कि उन्होंने नशे के खिलाफ के धंधे को कुचलने में शामिल पुलिस तथा खुफिया विभागों को निर्देश दिया है कि आने वाले दिनों में वे और आक्रामक ढंग से लोगों तक अपनी पहुंच बनाकर उनका समर्थन हासिल करें और चार सप्ताह के अंदर इस सामाजिक बुराई को खत्म करने के सरकार के उद्देश्यों को पूरा करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here