नई दिल्ली।नकली नोट की समस्या और भ्रष्ट्राचार को कम करने की दिशा में आगे बढ़ते हुए भारतीय रिजर्व बैंक 2000 के बाद अब 200 रुपए के नए नोट छापने की तैयारी में जुटा है। सूत्रों के अनुसार रिज़र्व बैंक के सेंट्रल बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स ने 200 रुपए के नोट छापने के प्रस्ताव को हरी झंडी दे दी है। 200 रुपए के नोट में नए सिक्योरिटी फीचर्स होंगे ताकी इसकी नकल करना नामुमकिन होगा। सूत्रों के अनुसार 200 रुपए के साथ 1000 और 100 रुपए के नए नोट को नए सिरे से छपने का प्रस्ताव बोर्ड ने दिया है।3-4 साल में बदले जाएंगे नोट के सिक्योरिटी फीचर्स
नकली नोटों पर लगाम कसने के लिए केंद्र सरकार हर 3-4 साल में 500 व 2000 रुपये के नोटों के सुरक्षा फीचरों में बदलाव करने पर विचार कर रही है। गृह और वित्त मंत्रालय के अफसरों के बीच हुई एक उच्च स्तरीय बैठक में इस मुद्दे पर चर्चा हुई है। नोटबंदी के बाद पिछले चार महीने में बड़ी मात्रा में नकली नोटों की खेप पकड़े जाने की वजह से केंद्र ने यह फैसला लिया है।

500 और 2000 के नोटों में भी नहीं हैं अतिरिक्‍त सिक्यूरिटी फीचर्स
अधिकारियों के अनुसार, देश में उच्‍च मूल्‍य के करेंसी नोटों के डिजाइन में लंबे समय से कोई बदलाव नहीं किया गया। 1000 रुपए का नोट साल 2000 में आया था और उसके बाद नोट में कोई प्रमुख बदलाव नहीं किया गया। 1987 में 500 रुपए के नोट में 10 साल पहले कुछ बदलाव किए गए थे। नए लॉन्‍च हुए नोटों में भी कोई अतिरिक्‍त सुरक्षा फीचर नहीं है और इनके सुरक्षा फीचर की बात करें तो पुराने 1000 और 500 के नोट जैसे ही हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here