नयी दिल्ली, एजेंसी

चार दिवसीय भारत यात्रा पर आयीं बांग्लादेश की पीएम शेख हसीना आज पीएम नरेंद्र मोदी से हैदराबाद हाउस में मिलीं, जहां पर दोनों नेताओं के बीच शिखर वार्ता होगी। उनकी इस यात्रा के दौरान दोनों पक्ष असैन्य परमाणु सहयोग और रक्षा सहित विभिन्न प्रमुख क्षेत्रों में कम से कम 25 समझौतों पर हस्ताक्षर करेंगे।

2014 में पीएम मोदी के सत्ता में आने के बाद हसीना की यह पहली भारत यात्रा है। उनकी इस यात्रा के दौरान तीस्ता जल साझा करने पर कोई समझौता होने की उम्मीद नहीं है।हसीना राष्ट्रपति भवन में रूकी हुई हैं। आज उनका राष्ट्रपति भवन के प्रांगण में औपचारिक स्वागत किया गया। इस दौरान उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। स्वागत समारोह में पीएम मोदी भी मौजूद रहे।

इसके बाद उन्होंने राजघाट पर महात्मा गांधी की समाधि पर श्रद्धासुमन अर्पित की।

समझौते की खास बातें: सैन्य आपूर्ति के लिए 50 करोड़ डॉलर का ऋण देगा भारत

1- बांग्लादेश को भारत सैन्य आपूर्ति के लिए 50 करोड़ डॉलर की ऋण सुविधा की घोषणा कर सकता है।

2- दोनों देश असैन्य परमाणु ऊर्जा पर एक रूपरेखा समक्षौते पर हस्ताक्षर करने के लिए ध्यानपूर्वक विचार कर रहे हैं, जिससे इस क्षेत्र में व्यापक सहयोग मुहैया होगा। इसमें बांग्लादेश में भारत द्वारा परमाणु रिएक्टर स्थापित करना शामिल है।

3- व्यापार को बढ़ावा देने के लिए दोनों पक्षों की ओर से पूवोर्त्तर क्षेत्र में सीमा से लगे क्षेत्रों में व्यापार सुविधा कुटिया का एक और समूह स्थापित करने की घोषणा की जा सकती है।

4- नियमित रक्षा सहयोग को औपचारिक रूप देने के एक अन्य समझौते पर भी हस्ताक्षर किया जाएगा।

5- दक्षिण एशिया में आईएसआईएस के फैलते जाल के मद्देनजर दोनों देशों के बीच मजहबी कट्टरवाद और आतंकवाद को रोकने में सहयोग पर भी गहन मंथन होना है। दोनों देशों के बीच इसी क्रम में साइबर सुरक्षा को लेकर एक अहम समझौता भी होने की संभावना है।

बस और रेल सेवा का शुभारंभ करेंगे मोदी-हसीना
हैदराबाद हाउस में मोदी और हसीना कोलकाता से खुलना के लिये बस सेवा और रेल सेवा तथा उत्तर बंगाल में सिलीगुड़ी से राधिकापुर के बीच रेल संपर्क का उद्घाटन करेंगे। पीएम मोदी मेहमान नेता के सम्मान में भोज देंगे। परिवहन संपर्क शुभारंभ कार्यक्रम एवं भोज में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को भी आमंत्रित किया गया है।

दिल्ली छावनी में आज दोपहर एक कार्यक्रम में हसीना 1971 के बांग्लादेश मुक्ति संग्राम में बलिदान देने वाले भारतीयों के परिजनों को सम्मानित करेंगी। शाम को उनकी उपराष्ट्रपति मोहम्मद हामिद अंसारी से मुलाकात होगी।

मेहमान नेता रविवार को अजमेर में ख़्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह पर जियारत करने जायेंगी। रविवार शाम को राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी उनके सम्मान में रात्रिभोज का आयोजन करेंगे, जिसमें ममता बनर्जी के अलावा बांग्लादेश की सीमा से लगे राज्यों असम, मेघालय, त्रिपुरा के मुख्यमंत्री भी शिरकत करेंगे।

हयाना सोमवार यानी दस अप्रैल को शीर्ष वाणिज्यिक संगठनों सीआईआई/फिक्की/ऐसोचैम द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में शिरकत करेंगी। फिर शाम चार बजे स्वदेश लौट जायेंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here