नई दिल्ली, । काले धन के मामलों की जांच में मदद के लिए सीबीआइ को नई ऑनलाइन प्रणाली मिलेगी। इससे बैंकों, आयकर विभाग और वित्तीय खुफिया यूनिट (एफआइयू) समेत विभिन्न एजेंसियों से डाटा इकट्ठा करने में सहायता मिलेगी।केंद्रीय सतर्कता आयोग (सीवीसी) द्वारा गठित समिति ने मौजूदा प्रणाली में बदलाव का सुझाव दिया है। इसी के बाद यह कदम उठाया गया है। सीवीसी के मुताबिक आय से अधिक संपत्ति की गणना की मौजूदा प्रणाली कई साल पहले लागू की गई। तब सूचना तक पहुंच सीमित थी।इसलिए आय से अधिक संपत्तियों की गणना की प्रणाली में सुधार और आय-व्यय से संबंधित सभी मामले रिकॉर्ड करने वाले सॉफ्टवेयर विकसित करने की जरूरत महसूस की गई। सीवीसी, सीबीआइ, एफआइयू और कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग के अधिकारियों की समिति ने अपनी रिपोर्ट सीबीआइ को सौंप दी है। सीबीआइ द्वारा इसमें और इनपुट दिए जाने के बाद इसे स्वीकार किया जाएगा। आय से अधिक संपत्ति का मामला भ्रष्टाचार रोधी कानून के तहत दर्ज किया जाता है। सीबीआइ ने पिछले साल भ्रष्टाचार के 673 मामले दर्ज किए जिनमें करीब 1,300 सरकारी कर्मचारी शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here