, बरेली/दिल्ली से आ रहे बिसवां, सीतापुर के भाजपा विधायक महेन्‍द्र यादव ने अपने समर्थकों के साथ बरेली में फतेहगंज पश्चिमी टोल प्लाजा पर जमकर गुंडई की। काफिला रोके जाने से नाराज कार्यकर्ताओं ने टोल कर्मचारियों से बदसलूकी की। उनके साथ मारपीट की।

इसके बाद विधायक खुद मैदान में कूद पड़े और टोल कर्मचारियों को पीटा। विधायक ने किसी भी वाहन का टोल टैक्स नहीं देने दिया और पूरे काफिले के साथ धमकी देते हुए वहां से रवाना हो गए। पूरी घटना सीसीटीवी में कैद हो गई है। शिकायत के बाद भी पुलिस ने कार्रवाई नहीं की है।

फतेहगंज पश्चिमी टोल प्लाजा पर विधायक की गुंडई का वीडियो 2 दिन बाद वायरल हो गया है। वीडियो वायरल होने के साथ ही पार्टी संगठन इस पर पर्दा डालने की कोशिश में जुट गया। टोल ब्रिज पर उत्पात मचाने वाले विधायक सीतापुर जिले के विसवां विधानसभा से विधायक महेंद्र सिंह यादव बताए जा रहे हैं। सीसीटीवी में जो रिकार्डिंग है, उसमें दिख रहा है कि विधायक अपने काफिले के साथ दिल्ली की तरफ से आ रहे थे। उनके साथ समर्थकों की गाड़ियां भी थीं। सीसीटीवी फुटेज में दिख रहा है कि टोल प्लाजा पर कर्मचारियों ने विधायक और उनके समर्थकों को रोका। उनसे टोल टैक्स मांगा।

फुटेज में साफ तौर पर नजर आता है की टोल ब्रिज पर विधायक की गाड़ी गुजरने के बाद उनके साथ चल रहे काफिले के वाहनों को टोल कर्मचारी रोकते हैं।पहले विधायक के समर्थकों की टोल कर्मचारियों से कहासुनी होती है। इसके बाद टोल का बैरियर पार कर चुकी विधायक की गाड़ी से कुछ लोग उतरते हैं। इसमें केसरिया कुर्ता पहने विधायक भी साथ आते हैं। दोनों तरफ से पहले नोकझोंक होती है और फिर समर्थक टोल कर्मचारियों को पीटना शुरू कर देते हैं। टोल कर्मचारियों के साथ बदसलूकी और मारपीट के बाद विधायक खुद बैरियर पर खड़े होकर जबरन अपने काफिले के वाहनों को बगैर टोल टैक्स दिए निकालते हैं।

विधायक इसके बाद कर्मचारियों को धमकी देकर वह खुद भी वहां से निकल जाते हैं। इस वीडियो के वायरल होने के बाद हड़कंप मचा हुआ है। टोल मैनेजर वैभव शर्मा ने इसकी तहरीर भी फतेहगंज पश्चिमी थाने में दी है लेकिन अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here