नई दिल्ली
दमदार तरीके से टेलीकॉम मार्केट में उतरी रिलायंस जियो ने अपने प्रतिद्वंदियों के सामने फ्री डेटा ऑफर के जरिए कड़ी चुनौती खड़ी कर दी है। रिपोर्ट के अनुसार, जियो के फ्री डेटा ऑफर के कारण राउटर मार्केट यानी डोंगल से इंटरनेट चलाने वाले लोगों की भारी कमी हुई है। डोंगल इंटरनेट के जरिए अपना कारोबार बढ़ाने का ख्वाब पाले कंपनियों को तगड़ा झटका लगा है।
डोंगल का कारोबार करने वाली कंपनियों को सिर्फ जियो की वजह से तगड़ा झटका नहीं लगा बल्कि इसके पीछे है भारतीयों का तेज भी है। लोग अब जियो का सिम लेकर फ्री डेटा का इस्तेमाल वाईफाई हॉटस्पॉट के रूप में कर रहे हैं और डोंगल में होने वाले खर्चे से बच रहे हैं। ऐसे में डोंगल और ब्रॉडबैंड कनेक्शन में काफी गिरावट देखने को मिली है।
जियो के उपभोक्ता मोबाइल हॉटस्पॉट के लिए जरिए अपनी दूसरी डिवाइससे भी चला रहें जो पहले ब्रॉडबैंड या राउटर के जरिए चलती थीं। इंटरनेशनल डेटा कार्पोरेशन के मुताबिक, 2016 के चौथे तिमाही में 19 फीसदी तक डोंगल के उपभोक्ताओं में कमी आई है। इतना ही नहीं राउटर मार्केट को इस कमी से 22 फीसदी तक इनकम कम हो गई है। राउटर मार्केट में यह भारी गिरावट नोटबंदी और जिओ के अनलिमिटेड डेटा ऑफर के दौरान दर्ज हुई।
राउटर मार्केट के बड़े खिलाड़ी माने जाने वाले नेटगियर, डिजिसॉल और टीपी लिंक के इनकम में भारी गिरावट हुई है। बताया जा रहा है कि डोंगल खरीदने वालों में सबसे ज्यादा ऑनलाइन खरीददार थे जो अमैजन और फ्लिपकार्ट के जरिए खरीदते थे।
वहीं एक सीनियर मार्केट विश्लेषक पावेल नैया ने मीडिया को बताया कि पिछले तीमाही में हुई हॉटस्पॉट तकनीकों की कुल सेल में जियो की भागीदारी 50 फीसदी रही यही कारण है कि बांकी कंपनियों सेल में गिरावट हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here