योगेश भारद्वाज
उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर कहा कि योग ही एक ऐसा माध्यम है जो पूरी दुनिया को एक सूत्र में बांध सकता है। उन्होंने कहा कि लोगों को योग को जीवन में ठीक उसी तरह इस्तेमाल करना चाहिए जिस तरह नमक किया जाता है। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर लखनऊ के रमाबाई अंबेडकर मैदान में बारिश के बीच बुधवार सुबह पीएम नरेंद्र मोदी समय पर पहुंच गए। मोदी के साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी आयोजन स्थल पर पहुंचे। इसके अलावा प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक भी योग करने पहुंचे।
कार्यक्रम में बोलते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, “मैं लखनऊ की धरती से सभी योग प्रेमियों को प्रणाम करता हूं।” बारिश के बीच पीएम मोदी ने चुटकी लेते हुए कहा कि योग मैट का उपयोग बारिश में कैसे हो सकता है, उन्हें ये भी पता चला है। लोग इसका इस्तेमाल बारिश से बचने के लिए भी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि आज योग हर किसी के जीवन का हिस्सा बन रहा है। विश्व के अनेक देश योग के कारण जुड़ रहे हैं। योग विश्व को अपने साथ जोड़ने में बड़ी भूमिका अदा कर रहा है। दुनिया के हर देश में योग का कार्यक्रम होता है। मोदी ने कहा कि 3 सालों में कई योग संस्थान स्थापित हुए। दुनिया के सभी देशों में योग शिक्षक की मांग हो रही है। भारतीयों की प्राथमिकता दुनिया में सबसे पहले है।
उन्होंने कहा कि वैज्ञानिक रूप से योग को करने के प्रयास चल रहे हैं। योग जीवन का हिस्सा बने, इसको लेकर जागरूकता बढ़ रही है। हमारी भावी पीढ़ियां हमारे सदियों पुराने ज्ञान से परिचित हों। प्रधानमंत्री ने कहा कि मैं योग को जीवन का हिस्सा बनाने का आग्रह करता हूं। योग से शरीर के अनेक अंगों की जागृति का अनुभव होता है। योग से शरीर के अंगों में जागरूकता आती है।

उन्होंने कहा कि शरीर में नमक की जरूरत को कोई नकार नहीं सकता। जीवन में नमक न होने से जीवन नहीं चल सकता। इसी तरह जीवन में योग का स्थान भी हम बना सकते हैं। योग दिवस के मौके पर सुबह से ही शुरू हुई बारिश के कारण सैकड़ों लोग आयोजन स्थल से वापस लौट गए। इसके बावजूद हजारों की संख्या में रमाबाई अंबेडकर मैदान पर लोग मौजूद रहे। उनके हौसलों को बारिश नहीं झुका पाई। लोगों को संबोधित करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने योग शुरू किया।

मोदी के साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, राज्यपाल और उनकी कैबिनेट के कई मंत्री भी मौजूद थे। इसके मद्देनजर वहां कड़ी सुरक्षा तैनात की गई थी। हालांकि रुक-रुक कर हो रही बारिश की वजह से मैदान में कई जगह पानी भर गया, जिसकी वजह से योग के लिए की गई सारी तैयारियां अस्त व्यस्त हो गई। लेकिन लोग फिर भी उत्साह के साथ मैदान में मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here