इलाहाबाद। शहर के पॉश इलाके जार्जटाउन थाना अंतर्गत सीवाई चिंतामणि रोड स्थित तालाब की भूमि पर अवैध रूप से काबिज 75 परिवारों को सोमवार को गहमागहमी के बीच हटवा दिया गया। सभी यहां झुग्गी-झोपड़ी बनाकर रह रहे थे। जिला प्रशासन, नगर निगम और इलाहाबाद विकास प्राधिकरण (एडीए) की संयुक्त रूप से यह कार्रवाई की।

काबिज लोगों ने खुद अपने सामान हटा लिए। फिर वहां जेसीबी लगाकर ध्वस्तीकरण करा कर समतलीकरण कराया गया। इस कवायद के दौरान नगर निगम की जेसीबी गड्ढे में पलट गई। इससे अफरातफरी मच गई। चालक इंद्रपाल व जेसीबी के आसपास मौजूद लोग बाल-बाल बच गए।

जिलाधिकारी संजय कुमार ने रविवार को नगर निगम और एडीए के अधिकारियों के साथ बैठक में इस तालाब से अवैध कब्जा हटाने का निर्देश दिया था। इसी क्रम में सोमवार दोपहर करीब 12 बजे जिला प्रशासन, एडीए और निगम के अधिकारी अतिक्रमण विरोधी दस्ते एवं जार्जटाउन थाने की पुलिस के साथ यहां पहुंचे। नगर आयुक्त हरिकेश चौरसिया ने माइक से यह अपील की कि लोग खुद अतिक्रमण हटा लें।

लोगों ने अपना सामान हटाना शुरू कर दिया। दोपहर करीब तीन बजे तक वहां अवैध रूप से बसे 75 परिवारों ने अपना सामान हटा लिए। लगभग चार हजार वर्गमीटर नजूल भूमि खाली हो गई। खाली जमीन को फिर तालाब का स्वरूप दिया जाएगा, ताकि टैगोर टाउन और जार्जटाउन में जलभराव की समस्या दूर हो सके।

यह भी पढ़ें: यूपी के लोगों को जल्द लगेगा झटका, बिजली महंगी होने की उल्टी गिनती शुरू

कार्रवाई खत्म होने के बाद अफसरों ने पक्के निर्माणों को भी चिह्नित किया। कुछ लोगों ने कोर्ट का आदेश उन्हें दिखाया। डीए आलोक कुमार पांडेय ने कहा, दर्जनों पक्के निर्माण चि​ह्नित किए गए हैं। जिन्हें स्थगन आदेश प्राप्त है, उसे खारिज कराने और अन्य के खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here