नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर में आतंकी हिंसा और अलगाववादी गतिविधियों के लिए पाकिस्तानी फंडिंग की जांच कर रही राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने सोमवार को दिल्ली, गुड़गांव और श्रीनगर सहित देश के 16 जगहों पर छापेमारी की।

आपको बता दें कि इसी साल मई माह के दौरान एक चैनल के स्टिंग ऑपरेशन में नईम अहमद खान जोकि कटटरपंथी हुर्रियत के प्रातीय प्रधान भी थे, के अलावा आतंकी कमांडर बिटटा कराटे ने दावा किया था कि कश्मीर में आतंकी हिंसा व अलगाववादी गतिविधियों के लिए पाकिस्तान से हवाला के जरिए पैसा आता है। इन लोगों ने गत वर्ष कश्मीर में हुए हिंसक प्रदर्शनों में स्कूल जलाने की साजिश की बात भी कबूली और गिलानी व मीरवाईज के हाफिज सईद संग रिश्तों का भी दावा किया था।

इसके बाद एनआईए ने एक मामला दर्ज कर गत चार जून को श्रीनगर और दिल्ली में 22 जगहों पर छापेमारी की। कई अलगाववादी नेताओं के घरों को भी खंगाला गया। आपको बता दें कि एक निजी चैनल द्वारा किए गए स्टिंग ऑपरेशन से यह बात निकलकर आई थी कि कश्मीर में आतंकी गतिविधियों को बढ़ावा देने और हिंसा फैलाने के लिए ये नेता पाकिस्तान से पैसा लेते हैं। स्टिंग ऑपरेशन में गिलानी व हाफिज सईद के संबंधों को खुलासा करने के बाद नईम को गिलानी ने अपने गुट से निलंबित कर दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here