जयपुर। इजराइल की तर्ज पर राजस्थान में बैलिस्टिक मिसाइल सिस्टम स्थापित होगा । इस सिस्टम से किसी भी तरह के मिसाइल हमले से रक्षा की जा सकेगी। रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) द्वारा राजस्थान में पाली जिले के सेंदड़ा वन क्षेत्र में स्थापित होने वाले इस मिसाइल बेस की स्थापना के लिए राज्य सरकार ने 370 हैक्टेयर भूमि आवंटित करने की मंजूरी दे दी है।

यह पाकिस्तान से सटी पश्चिमी सीमा के निकट सामरिक दृष्टि से काफी महत्वपूर्ण बेस होगा। इसके बाद मिसाइल का परिवहन नहीं करना पड़ेगा, युद्ध के दौरान इस बेस की काफी महत्वपूर्ण भूमिका रहेगी। यहां से युद्ध अथवा आपात स्थिति में क्विव रेसपांस मिल सकेगा। यहां बनने वाले मिसाइल बेस की भूमिका भी दोहरी होगी,ये लंबी दूरी के लिए लॉचिंग पेड तो होगा ही,साथ ही पडोसी देश की मिसाइल हरकतों पर नजर भी रख सकेगा।

यहां से 400 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में दुश्मन के मिसाइल हमले को रोकने में सक्षम होगा । वहीं 2000 किमी.की रेंज में दुश्मन की मिसाइल की पहचान भी कर लेगा। डीआरडीओ से मिली जानकारी के अनुसार पश्चिमी सीमा के निकट वर्तमान में गुजरात में मिसाइल बेस है। अब राजस्थान में पाली के सेंदड़ा और अलवर के खोआ में भी मिसाइल बेस बनेगा। डीआरडीओ दोनों स्थानों पर मिसाइल को ट्रैक करने वाला राडार लगाएगा ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here