उत्तरकाशी: ब्रिक्स सम्मेलन में चीन पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सुरेश बेलवाल की बनायी चीनी खीर के मुरीद हो गए। टिहरी गढ़वाल के द्वारी गांव के रहने वाले सुरेश पिछले तीन साल से चीन के छेंग्दू शहर के एक रेस्तरां ‘तंदूरी’ में कुक हैं। सुरेश कहते हैं-खीर खाकर मोदी बोले-लाजवाब।

पैंतीस वर्षीय सुरेश बेलवाल के पिता बनीता प्रसाद किसान हैं और गांव में ही रहते हैं, जबकि उनके दो बड़े भाई भी होटल व्यवसाय से जुड़े हुए हैं। छेंग्दू से फोन पर दैनिक जागरण हुई बातचीत में उन्होंने बताया कि कुकिंग का प्रशिक्षण लेने के बाद उन्होंने भारत के कई रेस्तरां में काम किया और वर्ष 2014 में चीन चले गए।

उन्होंने बताया कि ब्रिक्स सम्मेलन के दौरान उन्हें और तीन अन्य साथियों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के लिए भोजन तैयार करने की जिम्मेदारी मिली। सुरेश के अनुसार नाश्ते में प्रधानमंत्री को आलू चिप्स, समोसा और पनीर टिक्का परोसा गया। जबकि दोपहर के भोजन के लिए उनकी टीम ने भिंडी मसाला, बैंगन भरता, मिस्सी रोटी, प्लेन रोटी, दाल तथा फिरनी तैयार की।

उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री को सबसे ज्यादा पसंद आई फिरनी। फिरनी एक चीनी व्यंजन है, जो खीर के जैसा है। इसे चावलों को पीसकर तैयार किया जाता है। तब पीएम ने सुरेश को बुलाया और फिरनी तैयार करने की विधि भी पूछी। सुरेश ने बताया कि पीएम ने उनसे पूछा कहां के रहने वाले हो। इस पर उन्होंने बताया कि टिहरी गढ़वाल का तो मोदी ने कहा कि ‘उत्तराखंड के लोग दुनिया में देश का नाम रोशन कर रहे हैं।’

सुरेश के अनुसार उन्होंने प्रधानमंत्री को बताया कि वर्ष 2016 में जी-20 सम्मेलन में भी उनकी टीम ने भोजन तैयार किया था। सुरेश ने बताया कि ब्रिक्स सम्मेलन के लिए पहुंची विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के लिए भी उन्होंने भोजन तैयार किया।

सुषमा के लिए आलू जीरा, कड़ाही पनीर, दाल मक्खनी, जीरा चावल के अलावा मिस्सी रोटी और लच्छी परांठा भी तैयार किया गया। सुषमा ने भी इस स्वाद की भरपूर सराहना की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here