कानपुर। ख्वाहिशें मजबूरियों के बंधन में हैं तो क्या हुआ, कुछ तो जाहिर होंगी ही। कभी इसी शहर की गलियों में घूमे-फिरे रामनाथ कोविंद 15 सितंबर को कानपुर आ रहे हैं। अब राष्ट्रपति हैं तो यूं कहीं आना-जाना संभव नहीं है। मगर, दिल्ली जा बसे कोविंद का दिल ‘अपने कानपुर’ के लिए आज भी उतना ही धड़कता है। शायद यही वजह है कि उनके कार्यक्रम की रूपरेखा कुछ ऐसी है कि शहर के अलग-अलग वर्गों से जुड़े 100

प्रतिष्ठित जनों से ही मुलाकात कर वह कानपुर का हालचाल ले लेना चाहते हैं। महामहिम 15 सितंबर को कानपुर में होंगे। ईश्वरीगंज में स्वच्छता संदेश देने के बाद वह पूर्व राज्यसभा सांसद ईश्वरचंद्र गुप्त के तिलक नगर स्थित आवास पर कुशलक्षेम पूछने जाएंगे।

साथ ही यहां शहर के सौ प्रतिष्ठित जनों से मुलाकात करेंगे। ईश्वरचंद्र के बेटे विनीत चंद्र ने बताया कि राष्ट्रपति भवन की अपेक्षा है कि मुलाकात में सभी दलों के जनप्रतिनिधि, शहर के प्रमुख उद्यमी, प्रबुद्ध जन शामिल हों।

कुछ नाम राष्ट्रपति भवन की तरफ से भी सुझाए गए हैं। इसलिए राष्ट्रपति से मिलने वालों की सूची में शहर के प्रमुख उद्यमी, आइआइटी, मेडिकल कालेज के वरिष्ठ प्रोफेसर, कानपुर नगर और देहात के सभी भाजपा विधायक, सांसद, कानपुर नगर के अन्य दलों के सभी विधायक, पार्टियों के सर्वोच्च पदाधिकारी आदि शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here