चंडीगढ़। डेरा सच्चा सौदा सिरसा में चले सर्च आपरेशन के बाद अब डेरे के करीब 90 खातों को सील कर दिया गया है। इनमें कुछ खाते डेरे के नाम से तो कुछ डेरा प्रमुख राम रहीम के निजी नाम से संचालित थे। कुछ बैैंक खाते डेरे की चेयरपर्सन विपासना के नाम से संचालित होने की भी खबरें हैैं।

डेरे के तीन बैैंक खातों से करीब 68 करोड़ रुपये की राशि मिलने की खबर है। डेरे से जुड़े मामलों की जांच कर रही एसआइटी ने इस कार्रवाई को अंजाम दिया है। राम रहीम के बैंक खाते को भी सील किया गया है, जिसमें काफी कम रकम रखी हुई थी। बाबा की मुंहबोली बेटी हनीप्रीत के एचडीएफसी बैंक में संचालित खाते को अभी सील नहीं किया गया है। इस खाते पर एसआइटी की निगाह है। यदि इसमें कोई लेनदेन होता है तो एसआइटी को हनीप्रीत की लोकेशन का पता चल सकता है। लिहाजा उसे अभी सील नहीं किया जा रहा है।

गुरमीत राम रहीम के जेल जाने के बाद से डेरे का करीब 800 करोड़ का कारोबार बंद हो गया है। सिरसा डेरे की 14 कंपनियां, 8 स्कूल-कॉलेज, फाइव स्टार होटल एमएसजी रिजॉर्ट, कशिश रेस्टोरेंट, पुराने डेरे के सामने एसी सुपर मार्केट की 52 दुकानों पर कामकाज ठप है। कारोबार से जुड़े करीब आठ हजार लोग बेरोजगार हो गए। कुछ तो सिरसा छोड़कर चले गए हैैं। देश भर में 400 के करीब डीलर्स ने एमएसजी स्टोर्स भी बंद कर दिए हैं।

2008 से गुरमीत ने अब तक 14 कंपनियां लांच की थीं। इनमें से नौ सिर्फ चार साल में बनाईं। बाबा का टारगेट पांच साल में बिजनेस को 5000 करोड़ तक ले जाना था। फिलहाल एमएसजी के प्रोडेक्ट की कनाडा, इंग्लैंड, जर्मनी और ऑस्ट्रेलिया में ऑनलाइन बिक्री भी ठप है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here