जयपुर। राजस्थान की कान्हा फूड चेन और नजर पान मसाला कम्पनी के निदेशक नटवरलाल शारदा पर नक्सलियों को फंडिंग करने का मामला सामने आया है। इससे पहले उन पर 65 करोड़ रूपए की एक्साइज ड्यूटी चोरी करने के आरोप लगे थे।

इसी के चलते पिछले दिनों डायरेक्ट्रेट जनरल आॅफ कॉमर्शियल इंटेलीजेंस दिल्ली की टीम ने उन्हे जयपुर के महेश नगर स्थित आवास से गिरफ्तार किया था। वर्तमान में वे दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद है। डीजीसीआई की जांच के दौरान नटवरलाल का नक्सलियों से कनेक्शन एवं फंडिंग का मामला सामने आया। छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावी क्षेत्र बस्तर के बालेंगा गांव में नजर पान मसाला की फैक्ट्री पकड़े जाने के बाद सामने आया कि टैक्स बचाने के लिए नक्सलप्रभावी क्षेत्र में निर्माण एवं पैकिंग की फैक्ट्री लगाई गई। इसके बदले में नक्सलियों को फंडिंग करते थे,जिससे नक्सली सरकारी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को कार्रवाई नहीं करने देते।

डीजीसीआई के एक अधिकारी ने जयपुर में बताया कि नटवर लाल के बारे में पुख्ता सबुत होने के बाद कार्रवाई की गई। इधर नटवरलाल के बड़े भाई जुगलकिशोर ने बताया कि कान्हा फूड चेन परिवार का सामूहिक व्यापार है,पान मसाला का काम नटवर लाल देखतें है। उन्होंने बताया कि डीजीसीआई के अधिकारियों ने बस्तर की जिस फैक्ट्री के आरोप में नटवरलाल के खिलाफ कार्रवाई की वह तो दस वर्ष पूर्व बेच दी गई थी। नक्सलियों से कनेक्शन जैसी कोई बात नहीं है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here