चंडीगढ़। डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम की खास हनीप्रीेत के मामले में नया ट्विस्ट आ गया है। गुरमीत ने सोमवार को अपनी सजा को पंजाब एवं हरियाणा हाइकोर्ट में चुनौती दी। हनीप्रीत ने को दिल्‍ली हाइकोर्ट में अग्रिम जमानत याचिका दायर की है। हनीप्रीत साेमवार को दिल्ली में अपने वकील से मिली थी। वकील के अनुसार, हनीप्रीत की आेर से दिल्ली हाइकोर्ट में अग्रिम जमानत की अर्जी दायर की गई है। इस पर आज सुनवाई होगी। हनीप्रीत के खिलाफ हरियाणा पुलिस ने देशद्रोह का मामला दर्ज किया हुआ है अौर उसकी तलाश कर रही है। पुलिस के लाख कोशिशों के बाद भी वह हाथ नहीं आ रही है।

हनीप्रीत के वकील प्रदीप आर्य ने दावा किया है कि वह दोपहर उनके दफ्तर आई थी। उसकी ओर से दिल्ली हाइकोर्ट में अग्रिम जमानत याचिका दायर की गई है। बता दें कि डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम ने सोमवार को साध्वी यौन शोषण मामले में सीबीआइ की विशेष अदालत द्वारा सुनाई 20 साल कैद की सजा को हाइकोर्ट में चुनौती दी है। राम रहीम रोहतक की सुनरिया जेल में सजा काट रहा है। इसके बाद खबर आई की हनीप्रीत दिल्ली के लाजपतनगर में वकील प्रदीप आर्य के दफ्तर में साेमवार को दोपहर बाद आई। इससे सनसनी फैल गई और हरियाणा पुलिस में हड़कंप मच गया।

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को दो साध्वियों से दुष्कर्म के मामले मेंं 25 अगस्त को दोषी करार दिए जाने के बाद से हनीप्रीत गायब है। वह गुरमीत राम रहीम को हेलीकाप्‍टर में पंचकूला से रोहतक लाए जाने तक उसके साथ थी और इसके बाद गायब हो गई। इसके बाद से उसको लेकर तरह-तरह की चर्चाएं होती रही हैं। वह गुरमीत को सजा सुनाए जाने के बाद डेरा से जुड़े तीन लाेगों के साथ गई थी। उस रात वह रोहतक में एक डेरा प्रेमी के घर गई थी और उसके बाद एक कार में वहां से चली गई।

यह भी पढ़ें: राम रहीम ने सीबीआइ कोर्ट की सजा के खिलाफ हाईकोर्ट में दायर की अपील

इसके बाद से हनीप्रीत का पता नहीं चल रहा है। पुलिस ने उसके खिलाफ लुकआउट नोटिस भी जारी कर रखा है। पुलिस उससे आत्‍मसमर्पण करने की अपील भी कर चुकी है। इस दौरान उसके कभी नेपाल तो कभी पाकिस्‍तान और चीन भागने की बात सामने आती रही है तो कभी राजस्‍थान, मुंबई सहित अन्‍य स्‍थानों पर छिपे होने की चर्चा होती रही है।

पु‍लिस अब उसे भगोड़ा घोषित करने की तैयारी कर रही है। पुलिस हनीप्रीत के बारे में सुन‍ारिया जेल में बंद गुरमीत राम रहीम से पूछताछ की तैयारी कर रही है। इसके बाद हनीप्रीत की ओर से दिल्‍ली हाई कोर्ट में अग्रिम जमानत याचिका दायर कर दी है। अब इस पर मंगलवार को सुनवाई होगी, लेकिन इससे साफ संकेत मिलते हैं कि हनीप्रीत देश में ही कहीं छिपी हुई है।

राम रहीम की मुंह बोली बेटी हनीप्रीत लगातार पुलिस को चकमा दे रही थी। तीन दिन पहले उसके राजस्‍थान के श्रीगंगानगर में होने का इनपुट मिला तो पुलिस टीमें वहां पहुंचीं, लेकिन वह हाथ नहीं आई। हनीप्रीत उदयपुर होते हुए पुलिस को चकमा देकर जयपुर से बाहर निकल गई।

पुलिस को राम रहीम के पैतृक गांव गुरसर मेडिया के स्कूल के ही गर्ल्‍स हॉस्टल में हनीप्रीत के छिपे होने की सूचना भी मिली थी। इसके बाद राजस्थान और पंचकूला पुलिस की विशेष टीम ने गर्ल्स हॉस्टल के स्टाफ एवं लड़कियों से भी पूछताछ की, लेकिन सबने अनभिज्ञता जता दी थी।

हत्‍या की आशंका भी जताई गई थी

हनीप्रीत की हत्‍या की भी आशंका जताई गई थी। कहा गया कि हनीप्रीत डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम के सभी राज जानती थी और उसके पकड़े जाने से इनका खुलासा हो सकता है। इसी कारण डेरे के लोगों ने उसकी हत्‍या कर दी है। बताया गया कि सुरक्षा एजेंसियों और पुलिस को भी उसकी हत्‍या की आशंका है।

पूर्व पति विश्वास गुप्ता ने हत्‍या की संभावना को किया था खारिज

हनीप्रीत के पूर्व पति विश्वास गुप्ता ने कहा था कि हनीप्रीत जिंदा है और डेरा मुखी की अनुमति के बिना उसकी लवर को कोई छू भी नहीं सकता। हनीप्रीत के साथ अवैध संबंध से पहले डेरा मुखी ने चाहे जो किया हो, लेकिन बाद में सब कुछ हनीप्रीत के हाथ में ही था। विपसना भले ही डेरे की प्रबंधन कमेटी की चेयरपर्सन हो, लेकिन उसकी हनीप्रीत के समक्ष नौकर की हैसियत थी। विश्‍वास गुप्‍ता का कहना है के गुरमीत राम रहीम को पता है कि हनीप्रीत कहां है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here