नई दिल्ली। केंद्र सरकार को अगस्त महीने में वस्तु एवं सेवा कर के रूप में 90,669 करोड़ रुपए प्राप्त हुए हैं। अप्रत्यक्ष कर का यह आंकड़ा जीएसटी लागू होने के दूसरे महीने का है। संशोधित अनुमान के मुताबिक जुलाई में प्राप्त हुए जीएसटी का आंकड़ा 94,063 करोड़ रुपए का रहा जो कि शुरुआती अनुमान (92,283 करोड़) से ज्यादा रहा। आपको बता दें कि देशभर में जीएसटी 1 जुलाई 2017 को लागू कर दिया गया था।

एक अधिकारी ने बताया, “विभिन्न प्रमुखों (25 सितंबर, 2017 तक) के अंतर्गत जीएसटी से प्राप्त कुल राजस्व 90,669 करोड़ रुपए का रहा है।” अधिकारी ने बताया कि इन आकंड़ों में 10.24 लाख ऐसे करदाताओं को शामिल नहीं किया गया जिन्होंने कंपोजीशन स्कीम का चयन किया है। उन्होंने बताया कि इनमें से 14,402 करोड़ रुपये केंद्रीय जीएसटी (सीजीएसटी) से आए हैं, 21,067 करोड़ रुपए स्टेट जीएसटी (एसजीएसटी) से प्राप्त हुए हैं, 47,377 करोड़ रुपए इंटीग्रेटेड जीएसटी (आईजीएसटी) से हासिल हुए हैं और 7,823 करोड़ रुपए डिमैरिट और लग्जरी गुड्स पर लगाए गए मुआवजा उपकर के जरिए सरकार के खजाने में आए हैं। यह ध्यान देने वाली बात है कि अगस्त के महीने के लिए जीएसटीआर-3बी रिटर्न के साथ-साथ जीएसटी के भुगतान की अंतिम तारीख 20 सितंबर 2017 निर्धारित थी।

अधिकारी की ओर से दिए गए बयान में आगे कहा गया कि अभी भी कुछ ऐसे करदाता बच गए हैं जिन्होंने जुलाई और अगस्त (2017) महीने के लिए रिटर्न दाखिल नहीं किया है। साथ ही उन्होंने कहा कि आंकड़ों में दिखे इजाफे के बारे में जानकारी दी जाएगी। अगस्त के लिए मासिक रिटर्न दाखिल करने वाले करदाताओं की कुल संख्या 68.20 लाख अनुमानित है जिसमें से कुल 37.63 लाख करदाताओं ने ही 25 सितंबर तक GSTR 3B रिटर्न दाखिल किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here