लखनऊ। उत्तर प्रदेश के डीजीपी सुलखान सिंह का कार्यकाल तीन महीने बढ़ सकता है। यूपी सरकार ने केंद्र को इसके लिए आवेदन भेजा है। अगर केंद्र इस पर राजी हो जाता है तो उनका कार्यकाल तीन महीने तक बढ़ जाएगा।

बांदा जिले के निवासी सुलखान सिंह 30 सितंबर, 2017 को सेवानिवृत्त होने वाले हैं। ऐसे में शुरू से ही यह संभावना जताई जा रही थी कि सरकार उनका कार्यकाल बढ़ाने की भी सिफारिश करे, क्योंकि सुप्रीम कोर्ट की यह गाइडलाइन है कि डीजीपी की तैनाती दो वर्ष के लिए की जाए। सुलखान सिंह सख्त अफसर माने जाते हैं।

बसपा सरकार के दौरान उन्होंने भर्ती घोटाले की जांच की थी। सपा सरकार के आने के बाद लंबे समय तक उन्हें महत्वहीन पद पर तैनात किया गया। बहुत बाद में उन्हें डीजी प्रशिक्षण बनाया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here