दिल्ली के 71 प्रतिशत लोगों का कहना है कि वे पर्याप्त नींद नहीं ले पाते हैं जबकि 71 प्रतिशतों लोगों ने कहा कि उन्हें ऑफिस के साथ ही घर में भी तनाव महसूस होता है। इसी तरह दिल्ली में 79 प्रतिशत लोगों का मानना है कि उन्हें अधिक समय तक काम करना पड़ता है और यह वजह उनके हृदय को स्वस्थ रखने में सबसे बड़ी रुकावट है।

दरअसल, बुधवार को सफोला लाइफ अध्ययन 2017 पेश किया गया जिसमें यह पता लगाया है कि लोग क्यों अपने हृदय के स्वास्थ्य में सुधार के लिए कोशिश नहीं कर पा रहे, जबकि उन्हें इसके खतरों के बारे में अच्छी तरह से जानकारी है। सफोला लाइफ अध्ययन 2017 का उद्देश्य हृदय स्वास्थ्य की बाधाओं को समझना है, जिससे किसी व्यक्ति को स्वस्थ हृदय के अनुकूल जीवनशैली अपनाने के लिए प्रोत्साहित किया जा सके और इससे जुड़ी आदतों का पालन सुनिश्चित किया जा सके। यह अध्ययन दिल्ली, मुंबई, लखनऊ, हैदराबाद, चेन्नई और कोलकाता में 1306 लोगों पर किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here