भोपाल। मप्र माध्यमिक शिक्षा मंडल ने अगले साल होने वाली हाई स्कूल और हायर सेकंडरी परीक्षाओं के लिए तैयारी शुरू कर दी है। इसके तहत परीक्षा केंद्रों पर चाक-चौबंद व्यवस्था की जाएगी। परीक्षाएं मार्च 2018 में होना है।

परीक्षा केंद्रों पर किसी प्रकार का फर्जीवाड़ा न हो इसके लिए प्रत्येक परीक्षा केंद्र पर कलेक्टर प्रतिनिधि के सामने प्रश्नपत्र का लिफाफा खोला जाएगा। कलेक्टर प्रतिनिधि के मानदेय की व्यवस्था मंडल की ओर से की जाएगी। यह फैसला बुधवार को परीक्षाओं की व्यवस्था के संबंध में हुई बैठक में लिया गया। बैठक में मंडल के अध्यक्ष एसआर मोहंती सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

पांच हजार रुपए विलंब शुल्क

बैठक में स्पष्ट किया गया कि बोर्ड परीक्षाओं के आवेदन भरने की आखिरी तारीख समाप्त हो चुकी है। अब केवल विशेष विलंब शुल्क पांच हजार रुपए से ही 31 दिसंबर तक फार्म जमा किए जा सकेंगे। गौरतलब है कि परीक्षा फार्म भरने की आखिरी तारीख 30 सितंबर तक विलंब शुल्क के साथ थी। अब केवल विशेष विलंब शुल्क से ही परीक्षा में शामिल होने के लिए आवेदन किया जा सकता है।

20 लाख परीक्षार्थी होंगे शामिल

अगले साल होने वाली हाई स्कूल और हायर सेकंडरी परीक्षा में करीब 20 लाख परीक्षार्थी शामिल होंगे। इसके तहत हाई स्कूल परीक्षा में 11 लाख 45 हजार और हायर सेकंडरी परीक्षा में 7 लाख 65 हजार छात्रों ने परीक्षा के लिए आवेदन किया है।

केंद्रों की सूची सौंपी

बुधवार को हुई बैठक में सभी 51 जिलों में जिला शिक्षा अधिकारियों द्वारा कलेक्टर से केंद्र चार्ट अनुमोदन की प्रति मंडल को दी गई। जिन जिलों के केंद्रों की सूची को अभी अंतिम रूप नहीं दिया जा सका उसके लिए 15 अक्टूबर को अंतिम तारीख तय की गई है।

यह भी तय किया गया कि संवेदनशील और अति संवेदनशील परीक्षा केंद्रों पर विशेष गार्ड या पुलिस की ड्यूटी अनिवार्य रूप से लगाई जाएगी। पिछले साल की तरह इस बार भी परीक्षा केंद्र में मोबाइल पूर्णत: वर्जित रहेगा। बैठक में मंडल के उपाध्यक्ष डॉ.भागीरथ कुमरावत, सचिव अजय सिंह गंगवार, परीक्षा नियंत्रक राजीव सिंह तोमर सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here