पंचकूला। डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को दोषी ठहराने के बाद 25 अगस्त को पंचकूला में हिंसा भड़काने और देशद्रोह की आरोपी हनीप्रीत के गुनाहों का पंचकूला पुलिस ने खाका तैयार कर लिया है। हनीप्रीत के खिलाफ पुलिस आज जिला अदालत में आरोप पत्र दाखिल करेगी। इस मामले में हनीप्रीत के अलावा डॉ. आदित्य, पवन इंसा, सुरेंद्र धीमान, दिलावर, दान सिंह, चमकौर सिंह, महेंद्र इंसा भी आरोपी हैं।

फिलहाल डॉ. आदित्य और महेंद्र इंसा फरार चल रहे हैं। पवन इंसा अभी भी पुलिस रिमांड पर है। पुलिस सूत्रों के अनुसार इस मामले में फरार डॉ. आदित्य के खिलाफ पुलिस जल्द ही इनाम घोषित कर देगी। पंचकूला पुलिस ने डीजीपी हरियाणा को इस संबंध में एक पत्र भी लिखा है, जिसमें पुलिस ने कहा है कि डॉ. आदित्य पर इनाम घोषित होना चाहिए। आदित्य पर पुलिस 1 लाख रुपये का इनाम घोषित करने पर पर विचार कर रही है।

38 दिन तक लुकाछिपी का खेल खेलने के बाद 4 अक्टूबर को पंचकूला पुलिस ने हनीप्रीत को जीरकपुर से सुखदीप कौर के साथ गिरफ्तार किया था। जिसके बाद उसका नौ दिन तक रिमांड लिया गया और उससे पुलिस को एक मोबाइल फोन एवं अन्य सुबूत मिले थे, जिनका चार्जशीट में उल्लेख किया गया है।

इस मामले में पुलिस को सप्लीमेंटरी चालान भी पेश करना पड़ सकता है, क्योंकि डॉ. आदित्य के पास मामले में कई अहम जानकारियां हैं। जिसकी गिरफ्तारी होना अभी बाकी है। उसकी गिरफ्तारी के बाद पुलिस को जो सुराग मिलेंगे, उनका जिक्र सप्लीमेंटरी चालान में किया जाएगा

पुलिस डेरे से जुड़े कुल 155 केसों में से 150 में चालान पेश कर चुकी है। 5 मामलों में 15 से 20 आरोपियों की गिरफ्तारियां बाकी हैं। सोमवार को हिंसा के पूरे 90 दिन हो चुके हैं। पंचकूला पुलिस की 9 एसआइटी ने 155 एफआइआर पर जांच शुरू की थी। गाडिय़ों को आग लगाने के मामलों में अलग-अलग 50 से ज्यादा चालान हैं। एक केस में 15 से लेकर 100 लोगों तक को आरोपी बनाया गया है। इन मामलों में अफसर, ड्यूटी मजिस्ट्रेट और पुलिस को गवाह बनाया गया है।

पंचकूला में 25 अगस्त को माजरी चौक, कोर्ट कांप्लेक्स, सूरज थिएटर नाका, सेक्टर-3, हाईवे, सेक्टर-2/4रोड, हैफेड बिल्डिंग की बैक साइड, हैफेड के सामने, सेक्टर-5 के पास हिंसा हुई थी। इन सभी जगहों पर जिन ड्यूटी मजिस्ट्रेट की ड्यूटी थी, उन्हें गवाह बनाया गया है।

वहीं, उस एरिया में पुलिस की ओर से तैनात ड्यूटी ऑफिसर को भी गवाह बनाया गया है। इनमें प्राइवेट बैंक को आग लगाने, कैश जलाने, सरकारी गाडिय़ों के साथ मीडियाकर्मियों और लोगों की गाडिय़ों को जलाने के चालान हैं। पुलिस कमिश्नर एएस चावला के अनुसार जल्द ही हनीप्रीत के खिलाफ चालान पेश कर दिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here