करनाल। असंध में ईसाई समुदाय की मृत महिला के दफनाने को लेकर जमकर हंगामा हुआ। परिजन पहले शव को लेकर कस्बे के कॉलेज के पास बनी जमीन में दफनाने के लिए गए। वहां की महिलाओं ने जमीन को अपनी बताते हुए इसका विरोध किया और पथराव कर दिया। इसके बाद ईसाई समुदाय के लोगों ने सड़क जाम कर दिया। इसके बाद उसे अन्‍य जगह दफनाया गया तो इस पर भी लोगों ने हंगामा कर दिया। अंत में पुलिस ने शव काे कब्र से निकाल कर मोर्चरी में रखवा दिया।

एक ईसाई महिला की यहां मौत हो जाने के बाद परिजन शव को लेकर कस्बे के कॉलेज के पास बनी जमीन में दफनाने के लिए गए। इसका लोगों ने विरोध किया और विरोध किया। लोगों ने सड़क जाम कर दिया। जाम की सूचना पर नायब तहसीलदार हिम्मत सिंह, सब इंस्पेक्टर धर्मपाल, सचिव महावीर धानिया, नगर पालिका चेयरमैन दीपक छाबड़ा सहित कई पार्षद भी पहुंचे।

इसके बाद शव को कॉलेज के पास ही दफना दिया गया। शव दफनाने के बाद जब लोग वापस जाने लगे तो दूसरे पक्ष ने जाम लगा दिया और हिंसा पर उतारू हो गए। लोगों ने आरोप लगाया कि प्रशासन कॉलेज के पास कब्रिस्तान बनाना चाहता है। तनाव की सूचना पर पुलिस दोबारा मौके पर पहुंची और शव को निकालकर मोर्चरी में रखवा दिया।

गत 4 दिसंबर को ईसाई धर्म अपनाने वाले जसवंत सिंह की पत्‍नी प्यारो देवी की मौत हो गई थी। परिवार के लोग शव को दफनाने के लिए कभी नगरपालिका तो कभी पुलिस थाने के चक्कर काटते रहे। मंगलवार को नगरपालिका सचिव महावीर धानिया ने जेसी कॉलेज के पास शव दफनाने के लिए एक जगह अस्थायी तौर पर दे दी।

इस भूमि पर जैसे ही परिवार के लोग शव दफनाने के लिए पंहुचे तो अनूसूचित व पिछड़ा वर्ग की महिलाओं ने इसे अपनी बताते हुए शव दफनाने का विरोध किया। बाद में नगर पालिका सचिव व चेयरमैन ने कॉलेज के पास शव दफनाने की इजाजत दे दी। शव दफनाने के बाद यहां भी लोगों ने विरोध कर दिया। इसके बाद शव काे कब्र से निकालकर माेर्चरी में रखवाया गया।

नगर पालिका सचिव महाबीर धानिया ने बताया कि नगरपालिका ने जो जगह ईसाई समुदाय को दी थी उस जगह पर कोर्ट केस चल रहा है। मंगलवार को अस्थायी समाधान करते हुए कॉलेज के पास दफनाने की इजाजत दी थी।

उच्चाधिकारियों के आदेशानुसार शव को मोर्चरी में रखवा दिया है। सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए संबंधित क्षेत्र में पुलिस को तैनात कर दिया गया है। स्थिति पर कड़ी निगरानी रखी जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here