फरीदाबाद। राजधानी दिल्ली से सटे पलवल में एक के बाद एक लगातार 6 लोगों की हत्याओं को अंजाम देने वाले आरोपी साइको किलर का नाम नरेश धनखड़ है। फरीदाबाद में मछगर के रहने वाले हत्यारोपी रिटायर्ड फौजी नरेश को लेकर अब नए-नए खुलासे हो रहे हैं।

बताया जा रहा है कि इतने वीभत्स तरीके से 6 हत्याओं को अंजाम देने वाला नरेश पढ़ाई में अव्वल था, लेकिन इस तरह वह छह हत्याएं करेगा, इस पर परिजनों को भी यकीन नहीं आ रहा है। फौज से रिटायर होने के बाद वह जन स्वास्थ्य विभाग में एसडीओ भी रह चुका है।

जानें साइको किलर नरेश के बारे में

1. पलवल में सीरियल हत्याकांड को अंजाम देने वाला शख्स नरेश वर्ष 1999 में सेना में लेफ्टिनेंट के रूप में भर्ती हुआ था।

2. सेना में मेडिकल ग्राउंड पर रिटायर होने के बाद कृषि विभाग में एडीओ के पद पर वर्ष 2006 में भर्ती हुआ और बाद में प्रमोशन पाकर एसडीओ बना।

3. 10 साल पहले नरेश की शादी पलवल निवासी सीमा के साथ हुई थी।

4. नरेश का सीमा से 8 साल का एक बेटा भी है।

5. छह साल पहले पत्नी सीमा नरेश को छोड़कर अपने मायके चली गई थी।

6. नरेश और सीमा के बीच अभी तक तलाक नहीं हुआ है। हालांकि, दोनों अब भी अलग-अलग ही रहते हैं।

7. हत्यारोपी नरेश के चार भाई और हैं, इनमें नरेश सबसे छोटा है।

8. सबसे बड़े श्यामसुंदर निजी कंपनी में कार्यरत हैं, दूसरे नंबर पर पूर्व सैनिक चंद्रपाल हैं, तीसरे नंबर पर राजकुमार दिल्ली पुलिस में कार्यरत हैं।

9. चौथे नंबर पर सत्यप्रकाश हैं और सबसे छोटे यानी पांचवें पर नरेश है।

10. बताया जा रहा है कि नरेश का दिमागी रूप से संतुलन बिगड़ा हुआ है और उसका इलाज मुरादनगर में त्यागी नाम के डॉक्टर के पास चल रहा है।

11. हत्यारोपी नरेश के भाई चंद्रपाल के अनुसार, उसे पुलिस से सख्त नफरत थी और पत्नी के छोड़कर चले जाने से वह कुंठित हो गया था। शायद इन्हीं परिस्थितियों में उसने इतना बड़ा कदम उठाया होगा।

12. नरेश ने हरियाणा एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी हिसार से एमएससी की परीक्षा पास की थी और वह टॉपर था।

चंद्रप्रकाश के अनुसार, मानवीय दृष्टि से हम इसको पूरी तरह से गलत करार देते हैं और निंदा करते हैं। उनकी मानें तो पिछले 6 साल से उसकी शारीरिक भूख ना मिलने के कारण भी मानसिक रूप से उसकी यह हालत हो गई थी।

यह भी पढ़ेंः पूर्व सैनिक ने सिर्फ 2 घंटे में 6 लोगों को मार डाला, जानें क्यों बना साइको किलर

पुरुषों की तरह बात करती थी नरेश की पत्नी

भाई चंद्र प्रकाश के मुताबिक, नरेश की पत्नी भी अक्सर उसे धमकाती रहती थी कि तुझे पागल कर दूंगा। शब्दों पर गौर फरमाएं। बकौल चंद्रप्रकाश के अनुसार, उसकी पत्नी सीमा पुरुषों की तरह भाषा इस्तेमाल करती थी।

वहीं, DSP अभिमन्यु लोहान ने बताया कि प्रारंभिक जांच में पता चला है कि आरोपी ने बिना किसी वजह के इस वारदात को अंजाम दिया है।

पुलिस पूछताछ के दौरान आरोपी बहकी-बहकी बातें कर रहा है। उसने सबसे पहले एक अस्पताल में महिला की हत्या कर दी। इसके बाद उसके सिर पर खून सवार हो गया।

बताया जा रहा है कि अस्पताल से फरार होने के बाद रास्ते में उसे जो भी दिखा, उसे मौत की नींद सुलाता चला गया। सभी हत्याएं 100 मीटर के दायरे में लोहे की रॉड से मंगलवार की अल सुबह 2 से 4 बजे के बीच की गई हैं। इतना ही नहीं, हमले की कड़ी में आरोपी ने पुलिस टीम पर भी जानलेवा हमला कर दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here