बांग्‍लादेश ने चीन की एक बड़ी कंपनी के साथ एक सड़क निर्माण परियोजना को रद कर दिया है। यह कंपनी ढाका सिलहट राजमार्ग का निर्माण कर रही थी। मगर बांग्‍लादेशी अधिकारियों को रिश्‍वत देने के आराेप में उसके हाथ से यह परियोजना चली गई। कंपनी को ब्‍लैकलिस्‍ट भी कर दिया गया है, ताकि वह भविष्‍य में किसी परियोजना में हिस्‍सा ना ले सके।

वॉयस ऑफ अमेरिका की एक रिपोर्ट में यह बात सामने आई है। सरकारी अधिकारियों को रिश्‍वत देने के लिए बांग्‍लादेश सरकार द्वारा चाइना हार्बर इंजीनियरिंग कंपनी लिमिटेड को ब्‍लैकलिस्‍ट किया गया है और उसे भविष्‍य में बांग्‍लादेश की किसी भी निर्माण परियोजना में हिस्‍सा लेने की इजाजत नहीं होगी। रिपोर्ट में बांग्‍लादेश के वित्‍त मंत्री के हवाले से यह बात कही गई है। उन्‍होंने बांग्‍लादेशी मीडिया ‘द डेली स्‍टार’ को दिए एक इंटरव्यू में इसका खुलासा किया था।

यह कंपनी पूर्व में कई जानेमानी परियोजनाओं का जिम्‍मा संभाल चुकी है। इसमें पाकिस्‍तान का ग्‍वादर और श्रीलंका का हनबटोटा पोर्ट शामिल है। वित्‍त मंत्री के अनुसार, कंपनी ने बांग्‍लादेश हाईवे ट्रांसपोर्ट एंड ब्रिजेज डिपार्टमेंट के नव-निर्वाचित डायरेक्‍टर को घूस देने की कोशिश की थी, जिसका मकसद परियोजना के फंड से जुड़ा था। डायरेक्‍टर को करीब पांच मिलियन टका देने का प्रस्‍ताव रखा गया था। घूस की इस घटना के कारण वित्‍त मंत्री को परियोजना को रद और कंपनी को ब्‍लैकलिस्‍ट करना पड़ा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here