जोहानिसबर्ग में खेले जा रहे मौजूदा टेस्ट सीरीज़ के तीसरे और आखिरी मैच में टीम इंडिया ने दो बदलाव किए। इस मैच में विराट कोहली ने अजिंक्य रहाणे को रोहित शर्मा के स्थान पर मौका दिया, तो आर. अश्विन की जगह भुवनेश्वर कुमार को जगह दी गई। इसका मतलब कि इस टेस्ट मैच में भारतीय टीम बिना किसी स्पिन गेंदबाज़ के मैदान पर उतरी है।

टीम इंडिया किसी टेस्ट मैच में बिना स्पिन गेंदबाज़ के उतरी हो ऐसा 6 साल के बाद हुआ है। इससे पहले टीम इंडिया ने ऐसा ऑस्ट्रेलिया में किया था। 2012 में पर्थ के मैदान पर खेले गए मुकाबले में भारतीय टीम 4 तेज़ गेंदबाजों के साथ उतरी थी। उस मुकाबले में ज़हीर खान, इशांत शर्मा, उमेश यादव और विनय कुमार को मौका दिया गया था। आपको बता दें कि 1990 के बाद ये तीसरा मौका है, जब भारतीय टीम बिना किसी स्पिन गेंदबाज़ के टेस्ट मैच खेलने उतरी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here